Civil Society

November 11, 2021

A ‘Selfish’ Social Worker Is Not Such A Bad Idea!

Considering the implications of pathological altruism in social work, this article is based on the assumption that some people may, sometimes, act ‘social’ as a way of living vicariously through their developmental beneficiaries. If true, this has negative personal and professional consequences. The author alerts us to our practices and provokes development professionals to introspect about the subtle psychological dynamics of their work
November 11, 2021

पहली सैलरी

ज्यों ही मैंने अपने बायें हाथ में थामे हुए झोले का सफेद फीता कसते हुए निगाहें दरी से ऊपर की ओर उठाई, तब प्रदान दफ़्तर की घड़ी 5 बजकर 25 मिनट बजा रही थी। मेरी अपनी कलाई घड़ी में 5 बज रहे थे। शायद ‘विलेज स्टे’ का नाम सुनकर वह भी मेरी तरह सुस्त पड़ गई थी। मेरे ऑफिस के ‘कलीग’ मुझे ऊपर चौक तक गीता दीदी के साथ छोड़ आए। इससे आगे का रास्ता मुझे गीता दीदी के साथ ऑटो रिक्शा से तय करना था। पथरीले रास्ते पर खट–खट की आवाज़ करता रिक्शा जब कुछ समय के लिए थमा तो गीता दीदी मुझसे पूछी, “दादा आपके घर पर कितने लोग हैं? माँ–बाप जिन्दा हैं या मर गए?” पहली ही मुलाकात में इस तरह का सवाल मेरे लिए थोड़ा अजीब था।